धार्मिक सभा के अयोजन में हमला, 40 की मौत, 60 घायल

Foto

विश्व के समाचार/World news


काबुल। अफागानिस्तान के काबुल में धार्मिक सभा का आयोजन किया गया था। इस बीच आतंकी हमलावारों ने घात लगाकर आत्मघाती हमला बोल दिया। हमले में 40 लोगों की मौत हो गई। वहीं, करीब 60 से भी अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। हमले के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता वाहिद मजरोह ने जानकारी दी है। घटना के बाद से इलाके में दशहत का माहौल है। सुरक्षाबलों ने मामले को लेकर जांच शुरू कर दी है। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया।

 

 

काउंसिल के सदस्यों को निशाना

 

प्रवक्ता के मुताबिक काबुल में पैगंबर मोहम्मद के जन्म दिवास पर धार्मिक सभा का अयोजन किया गया था। यहां देशभर से उलेमा काउंसिल के सदस्य भी शिरकत करने पहुंचे थे। इस बीच आतंकियों ने आयोजन में अचानक ही हमला बोल दिया। हमले में भारी जनहानि हुई है। प्रवक्ता ने  हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि आत्मघाती हमलावर ने कार्यक्रम हॉल में आकर भीड़ के बीच खुद को भी उड़ा लिया।

 


मारे गए थे 30 पुलिसकर्मी


बताते चलें कि यहां पहले भी इस तरह के कई हमले होते रहे हैं। यहां गत 15 नवंबर को अफगान स्थित पश्चिमी फराह प्रान्त में तालिबान ने हमला कर दिया था। इस हमले में भी 30 पुलिसकर्मियों की मोत हो गई थी। रिपोर्ट्स के अनुसार तालिबान हमलावारों ने खाकी साफेद जिले में देर रात पुलिस की चौकी पर अचानक ही हमला बोल दिया था। वहीं, पुलिस जवानों के जवाबी हमलों में 17 तालिबानी भी ढेर हो गए थे। हमला किया था। वहीं जवाबी हवाई हमलों में 17 तालिबानी लड़ाके भी मारे गए थे। तालिबानियों के हमले में अफगान को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। अनधिकृत आंकड़ों के मुताबिक तालीबानियों के हमले में यहां तकरीबन 45 अफगान पुलिसकर्मी या सुरक्षा जवान रोज मारे जा रहे हैं, या फिर घायल हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें...खूंखार किलर की दरिंदगी, कत्ल के बाद लाश से करता था घिनौना काम...

यह भी पढ़ें...ट्रंप की लताड़ पर पाक का जवाब, अमेरिकी राजदूत को भेजा समन

leave a reply

विश्व के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी