फ्रांस सरकार जब्त करेगी आतंकी मसूद की संपत्ति

Foto

World News / विश्व समाचार

नई दिल्ली। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत के प्रयास रंग लाते नज़र आ रहे हैं। फ्रांस ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर की फ्रांस में मौजूद संपत्तियों को जब्त करने का फैसला किया है। 

पुलवामा आतंकी हमले का साजिशकर्ता और जैश का सरगना मसूद अजहर भले ही संयुक्त राष्ट्र की पाबंदी सूची में आने से बच गया हो, लेकिन उसके खिलाफ दुनियाभर में अभियान जारी है। 

फ्रांस के यूरोप एवं विदेशी मामलों के मंत्रालय, फ्रांस के आर्थिक एवं वित्त मंत्रालय तथा आतंरिक मामलों के मंत्रालय के संयुक्त बयान में कहा गया है, “14 फरवरी, 2019 को पुलवामा में एक घातक हमला हुआ, जिसमें भारतीय पुलिस बल के 40 लोगों ने जान गंवाई। जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है, जिसे 2001 से ही संयुक्त राष्ट्र आतंकी संगठन घोषित करने का प्रयास कर रहा है।”

बयान में कहा गया, “फ्रांस आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमेशा से भारत के साथ रहा है और हमेशा रहेगा। फ्रांस ने मसूद अजहर की संपत्तियों को जब्त करके उस पर राष्ट्रीय पाबंदी लगाने का फैसला किया है।”

इसे भारत की बड़ी कामयाबी के रूप में देखा जा रहा है। भारत ने इस कदम का स्वागत किया है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्विटर पर लिखा, “जैश-ए-मोहम्मद के सरगना और पुलवामा आतंकी हमले के जिम्मेदार मसूद अजहर पर पाबंदी लगाने के फ्रांस के फैसले का हम स्वागत करते हैं।”

यह भी पढ़ें: चीन ने फिर दिया मसूद अजहर का साथ, अमेरिका ने दी 'एक्शन' की चेतावनी

यह भी पढ़ें: आतंकवाद के मुद्दे पर भारत को मिला अमेरिकी का समर्थन

leave a reply

विश्व के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी