श्रीलंका में हुए धमाके कि आईएसआईएस ने ली जिम्मेदारी, सामने आया संदिग्ध का वीडियो

Foto

World News/विश्व के समाचार

नई दिल्ली। दुनिया का सबसे खतरनाक आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ने अपनी अमाक समाचार एजेंसी के माध्यम से श्रीलंका बम विस्फोटों के लिए जिम्मेदारी का दावा किया है। रविवार को ईस्टर के मौके पर श्रीलंका में हुए सिलसिलेबार हुए बम धमाकों में 321 लोगों की जान जा चुकी है। इस बस धमाके से पूरी दुनिया में हड़कंप मच गया था वहीं खबर मिली है कि श्रीलंका के चौथे होटल पर हमला करने की योजना विफल कर दी गई। इसके अलावा बताया गया है कि दो मुस्लिम भाई आत्मघाती हमलावर थे।

सूत्र के अनुसार, एक अमीर कोलंबो मसाला व्यापारी के बेटों ने खुद को उड़ा लिया। इस दौरान मेहमान राजधानी के शांगरी-ला और दालचीनी ग्रैंड होटलों में नाश्ते के लिए कतार में खड़े थे। श्रीलंका के एक वरिष्ठ मंत्री ने संसद को जानकारी दी कि ईस्टर के मौके पर रविवार को देश के गिरजाघरों और लग्जरी होटलों में हुए विस्फोटों को स्थानीय इस्लामी कट्टरपंथियों ने अंजाम दिया था। उन्होंने बताया कि ये विस्फोट न्यूजीलैंड की मस्जिदों में की गई गोलीबारी का बदला लेने को किए गए थे।  

श्रीलंका में गिरजाघर पर आत्मघाती बम हमले को अंजाम देने वाले हमलावर का हमले से कुछ सेकंड पहले का वीडियो सामने आया है, जिसमें वह भीड़भाड़ वाले गिरजाघर में प्रवेश करने से पहले एक बच्ची के सिर पर हाथ रखता दिखाई दे रहा है। श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 321 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई।

वीडियो में दाढ़ी वाला एक शख्स अपनी पीठ पर बड़ा सा बैग लादे नजर आ रहा है 

यह वीडियो मंगलवार को सामने आया। श्रीलंका के पश्चिम तट पर स्थित नेगोंबो में सेंट सेबास्टियन कैथोलिक गिरजाघर से सामने आये इस वीडियो में दाढ़ी वाला एक शख्स अपनी पीठ पर बड़ा सा बैग लादे नजर आ रहा है जो गिरजाघर के बाहर खड़ी बच्ची के सिर पर अपना हाथ रखता दिखता है, क्योंकि वह बच्ची से टकराने ही वाला था। वीडियो में बच्ची एक व्यक्ति के साथ नजर आ रही है। संदिग्ध इसके बाद शांत भाव से चलते हुए पास के दरवाजे से गिरजाघर में घुसता है, जहां रविवार की प्रार्थना के लिये काफी संख्या में लोग खड़े दिख रहे हैं। जिस वक्त आतंकवादी ने खुद को बम से उड़ाया उस वक्त प्रार्थना जारी थी। इस चर्च में हुए विस्फोट में 93 लोगों की मौत हो गई। 

आतंकी संगठन आईएसआईएस ने मंगलवार को इन हमलों की जिम्मेदारी ली। इसे अंजाम देने वाले सात आत्मघाती बम हमलावरों की पहचान कर ली गई। जिहादी गतिविधियों की निगरानी करने वाले साइट इंटेलीजेंस ग्रुप के अनुसार अपनी प्रचार संवाद समिति ‘अमाक' के मार्फत एक बयान में आईएसआईएस ने कहा, ‘दो दिन पहले श्रीलंका में गठबंधन के सदस्य देशों के नागरिकों और ईसाइयों को निशाना बना कर जिन लोगों ने हमला किया, वे इस्लामिक स्टेट समूह से जुड़े थे।   

यह भी पढ़ें  योगी की ठोको नीति का असर है कहीं पुलिस जनता को ठोक रही है तो कहीं जनता पुलिस को ठोक रही है।

यह भी पढ़ें   भाजपा को करारा सबक सिखाएगी जनता 

leave a reply

विश्व के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी