आतंकवाद के मुद्दे पर भारत को मिला अमेरिकी का समर्थन

Foto

World News / विश्व समाचार

नई दिल्ली। भारत और अमेरिका इस बात पर सहमत हुए कि पाकिस्तान आतंकवादी ढांचे को नेस्तनाबूद करने के लिए ‘संगठित कार्रवाई’ करे और अपनी सरजमीं पर सभी आतंकी संगठनों को पनाहगाह मुहैया करना बंद करे।

अमेरिका की यात्रा पर गए विदेश सचिव विजय गोखले ने कल अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो के साथ मुलाकात की। इस वार्ता में भारत और अमेरिका इस बात पर सहमत हुए कि पाकिस्तान आतंकवादी ढांचे को नेस्तनाबूद करने के लिए ‘संगठित कार्रवाई’ करे और अपनी सरजमीं पर सभी आतंकी संगठनों को पनाहगाह मुहैया करना बंद करे।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद दोनों देशों के बीच यह उच्चतम स्तर की बैठक थी। गोखले और पोम्पियो ने विदेश नीति और सुरक्षा से जुड़े अहम मुद्दों पर चर्चा की। विदेश सचिव ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत को अमेरिका से मिले समर्थन को लेकर अमेरिकी सरकार और पोम्पियो की सराहना की। 

साथ ही अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर पाकिस्तान लगातार अकेला पड़ता जा रहा है। उसके द्वारा पाले पोसे गए आंतक के सरगना मौलाना मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रतिबंध लगाने की मांग जोर पकड़ती जा रही है। 

यह भी पढ़ें: F-16 के दुरुपयोग मुद्दे पर घिरा पाकिस्तान

यह भी पढ़ें: प्रतिबंधित सूची से नहीं हटेगा हाफिज सईद का नाम

leave a reply

विश्व के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी